10.8.09

नौ घंटे सीढी पर चढ़कर मोटर साइकिल लगातार चलाकर रच दिया इतिहास

यदि इंसान में कुछ कर गुजरने का हौसला हो तो वह क्या नहीं कर सकता है. हैरतअंग्रेज कारनामा को अंजाम देने के लिए साहस और आत्मविश्वास का होना अत्यंत आवश्यक है. विगत दिवस रविवार को जबलपुर के कोबरा ग्राउंड में सेना और प्रशासनिक अधिकारियो और शहर के गणमान्य नागरिको की उपस्थिति में डेयर डेविल्स के केप्टिन जितेन्द्र ने जमीन से १८ फुट ऊपर एवं मोटर साइकिल से १५.४ फुट ऊपर लगातार नौ घंटे सीढी पर चढ़कर बुलेट मोटर साइकिल चलाकर एक हैरतअंग्रेज साहसिक कारनामा कर दिखाया है और विश्व कीर्तिमान रच दिया है.



१५ फुट ऊँची सीढी पर चढ़कर मोटर साइकिल चलाने का पिछला कीर्तिमान चीन के एक जवान के नाम है . सुबह सीढी पर चढ़ कर सुबह ११ बजे केप्टिन जितेन्द्र ने जो मोटर साइकिल चलाने का क्रम शुरू किया जो लगातार नौ घंटे के बाद रुका. बीच बीच में रिमिझिम बारिश भी हुई पर जितेन्द्र ने अपना साहस नहीं खोया और लगातार बुलेट मोटर साइकिल चलाते रहे. जैसे ही उनका यह कारनामा बंद हुआ लोगो ने भारी आतिशबाजी की और हर्ष व्यक्त किया.



इस कारनामे की जाँच समिति द्वारा एक सीडी बनाई गई है जोकि गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड को रिकार्ड हेतु प्रेषित की जावेगी. केप्टिन जितेन्द्र के इस कारनामे के पीछे कठोर मेहनत और लगन छिपी हुई थी जिसने दर्शको का दिल जीत लिया. दर्शक साँस रोककर अतिम समय तक इस साहसिक अभियान को देखते और सराहते रहे और उन्होंने केप्टिन की खूब हौसलाफजाई की और उनका निरंतर उत्साह बढाते रहे.

8 टिप्‍पणियां:

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

कैप्टेन जीतेंद्र को बहुत बधाई और शुभकामनाएं और आपको धन्यवाद,

रामराम.

विनोद कुमार पांडेय ने कहा…

bahut hairatangez karnama
aadmi me agar vishwas ho to wo kuch bhi hasil kar sakata hai..

jitendra ji ko badhayi..

आदित्य आफ़ताब "इश्क़" ने कहा…

कप्तान जीतेन्द्र को सलाम ,महेन्द्र जी धन्यवाद

दिगम्बर नासवा ने कहा…

कैप्टेन जीतेंद्र की बहादुरी को सलाम और उनको बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं और आपको भी धन्यवाद इस लेख के लिए

Udan Tashtari ने कहा…

कैप्टेन जीतेंद्र को बहुत बधाई और शुभकामनाएं

Harkirat Haqeer ने कहा…

कैप्टेन जीतेंद्र को बहुत - बहुत बधाई ....!!

दर्पण साह "दर्शन" ने कहा…

ya duniya ashcharyon se bhari padi hai...

some are born some develope

...dhanyavaad usmein se ek share karne ke liye !!

ek chandan ki mehak ने कहा…

jaha chah waha rah
we salute caption jitendra