31.5.09

विश्व तम्बाखू निषेध दिवस पर माइक्रो पोस्ट : हर फ़िक्र को धुएं में उड़ाता चला गया


हर फ़िक्र को धुएं में उड़ाता चला गया
आज विश्व तम्बाखू निषेध दिवस है . आप इसे पी रहे है और अपने हर फ़िक्र को धुएं में उड़ा रहे है.

आप जान जाए कि आप अपनी फ़िक्र को धुएं में नहीं उड़ा रहे है वरन आप अपनी जिंदगी को धीरे धीरे अपने पास से खुद उड़ा रहे है.



सिगरेट आप पी रहे है पर आप नहीं जानते ये आपको पीकर जल्दी निपटाने का चक्कर चला रहे है.



कृपया तम्बाखू/सिगरेट का बहिष्कार करे और दीघार्यु हो .




जनहित में

8 टिप्‍पणियां:

vandana ने कहा…

achchi koshish ki hai logon ko samjhane ki.......bas samajh jayein itna hi to itni mehnat sarthak ho jaye.

Kashif Arif ने कहा…

बहुत अच्छी और प्ररेणादायक पोस्ट

Udan Tashtari ने कहा…

कृपया तम्बाखू/सिगरेट का बहिष्कार करे और दीघार्यु हो .


-विश्व तम्बाखू निषेध दिवस पर और हर दिन एक जरुरी संदेश.

ajay kumar jha ने कहा…

mahendra bhai...kaash ki in prayaason se sachmuch hee koi samajh paataa...badhiyaa likhaa aapne ...

योगेन्द्र मौदगिल ने कहा…

सार्थक पोस्ट.... वाह...

●๋• सैयद | Syed ●๋• ने कहा…

विश्व तम्बाखू निषेध दिवस पर एक सार्थक पोस्ट

धन्यवाद

"अर्श" ने कहा…

sachhi baat sarthakataa hai ye puri tarah se... badhaayee


arsh

डॉ. मनोज मिश्र ने कहा…

चेतावनी भरी पोस्ट .सही सलाह .