30.12.09

हंसी के गुलगुले ताउजी के नाम...

साल 2009 अपने जाने की घडियों का इंतज़ार कर रहा है . सन 2010 आने को बेताब है उसके आगमन की ख़ुशी में हम क्यों न थोडा हंस ले मुस्कुरा लें . आज के चुटकुले ताउजी के नाम है .


ताउजी : आपका रेस्टोरेंट बहुत ही क्लीन है
मैनेजर : सर मै आपका बहुत ही आभारी हूँ
ताउजी : हर चीज से साबुन की बू आती है सूप से, चिकिन से, सलाद से, नान से,
*****

ताउजी बच्चो की क्लास ले रहे थे . एक बच्चे से उन्होंने पूछा - ब्यूटीफुल का क्या अर्थ है ?
वह बालक सकपका गया .
फिर ताउजी ने पूछा - ब्यूटी याने ? बालक - सुन्दर
ताउजी - फुल याने ? बालक - भरपूर
ताउजी - "शाबाश" हाँ अब बताओ ब्यूटीफुल का अर्थ ?
बालक - विपाशा बासु
*****

प्रोफ़ेसर ताउजी ने एक नव कलमकार को नसीहत देते हुए कहा - अगर किसी की राइटर की किसी पोस्ट से कोई चीज ले लो तो वह साहित्यक चोरी कहलाती है मगर कई साहित्यकारों की पोस्टो से बहुत कुछ ले लो तो वह रिसर्च
करना कहलाता है .
****

प्रोफ़ेसर ताउजी बड़े भुलक्कड़ थे . हमेशा वे अपनी घडी पेंट की बांयी जेब में रखा करते थे . एक बार भूल से उन्होंने अपनी घडी पेंट की दांयी जेब में रख ली और स्कूल चले गए . स्कूल पहुँचाने पर उन्होंने समय देखने के लिए अपनी जेब में हाथ डाला तो घडी नदारत थी वे बड़े हलकान और परेशान हो गए . उन्होंने स्कूल के एक छात्र को बुलाकार कहा जाओ जाकर मेरे घर से घडी ले आओ ? फिर पेंट की दांयी जेब में हाथ डालकर धडी निकली फिर उस छात्र से बोले - अभी दस बजकर बीस मिनिट हुआ है और तुम दस बजकर चालीस मिनिट तक वापस आ जाना .
****

ताउजी ने अपने घर आये मेहमान से कहा - आ जाओ इस कुत्ते से डरो नहीं
मेहमान - क्या यह कुत्ता काटता नहीं है ?
ताउजी - अरे भाई यही तो मै परखना चाहता हूँ इसे मै आज ही खरीदकर लाया हूँ .
****

एक प्रेमी दया नामक प्रेमिका के घर गया . प्रेमिका के पिता ने पूछा - कहो कैसे हो ?
प्रेमी प्रेमिका के पिता से - जी सब ठीक है बस आपकी दया चाहिए .

सभी ब्लागर भाई बहिनों को नववर्ष की हार्दिक मंगलमय शुभकामनाये.

11 टिप्‍पणियां:

विनोद कुमार पांडेय ने कहा…

बेहतरीन और मजेदार हँसगुल्ले ..नये साल की हार्दिक बधाई...आपके हँसगुल्ले इसी तरह नये साल में भी सभी के चेहरों पर मुस्कान लाती रहें....शुभकामनाएँ!!!

हिमांशु । Himanshu ने कहा…

वाह ! बहुत ही शानदार ! आभार ।

श्यामल सुमन ने कहा…

सुन्दर। मजा आ गया।

सादर
श्यामल सुमन
09955373288
www.manoramsuman.blogspot.com

मनोज कुमार ने कहा…

बहुत-बहुत धन्यवाद
आपको नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं।

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

वाह बहुत मजेदार.

रामराम.

aarya ने कहा…

सादर वन्दे
आपने रिसर्च की बखिया उधेड़ दी,
मजा आ गया, सभी मजेदार थे!
रत्नेश त्रिपाठी

Udan Tashtari ने कहा…

हा हा..मजेदार!!


मुझसे किसी ने पूछा
तुम सबको टिप्पणियाँ देते रहते हो,
तुम्हें क्या मिलता है..
मैंने हंस कर कहा:
देना लेना तो व्यापार है..
जो देकर कुछ न मांगे
वो ही तो प्यार हैं.


नव वर्ष की बहुत बधाई एवं हार्दिक शुभकामनाएँ.

राज भाटिय़ा ने कहा…

बहुत सुंदर जी सभी चुटकले , आप को नये साल की हार्दिक बधाई

पी.सी.गोदियाल ने कहा…

बहुत खूब, लाजबाब ! नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाये !

डॉ. मनोज मिश्र ने कहा…

वर्ष नव-हर्ष नव-उत्कर्ष नव
-नव वर्ष, २०१० के लिए अभिमंत्रित शुभकामनाओं सहित ,
डॉ मनोज मिश्र

गिरीश पंकज ने कहा…

ha...haa...hha....kyaa baat hai... mazaa aa gayaa..