27.1.10

आरती टंकी माता की....

कल २६ जनवरी को राज भाटिया जी ने टंकी का उदघाटन करवा दिया और ताउजी को ऊपर चढाने के राजी कर लिया हैं . टंकी का उदघाटन तो हो गया तो मैंने सोचा चलो भाई अब टंकी माता की आरती भी कर लेते है . चलिए स्तुति करें टंकी माई की ....

आरती टंकी माता की

ओम जय टंकी माता मैया जय टंकी माता
जो ब्लॉगर तुझको ध्यावे मनवांछित फल पाता
तुम हो दयालु माता पानी ही तुझसे ही आता
ओम जय टंकी माता मैया जय टंकी माता

जिसपे कृपा द्रष्टि हो तुम्हारी त्रिभुवन सुख पाता
जो अशान्त ब्लॉगर तेरी शरण में ऊपर को जाता
उतरते ही वह त्रासदी भुलाकर परमशान्ति पाता
ओम जय टंकी माता मैया जय टंकी माता

जो तुम्हारी महिमा ध्यानमग्न हो कर गाता
वही ब्लॉगर सहज में टंकी से छुटकारा पाता
ओम जय टंकी माता मैया जय टंकी माता


महेन्द्र मिश्र
जबलपुर.

10 टिप्‍पणियां:

प्रवीण शुक्ल (प्रार्थी) ने कहा…

हां हाँ हाँ मिश्र जी बहुत खूब रही आरती
सादर
प्रवीण पथिक
9971969084

Udan Tashtari ने कहा…

जत हो टंकी माता की...पंडित जी इसे गाकर जरा पॉडकास्ट किया जाये. :)

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

हम तो टंकी पर चढे चढे ही आपके साथ टेर मिला रहे हैं.:)

रामराम.

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" ने कहा…

जय हो!!

ललित शर्मा ने कहा…

वाह मिसिर जी-अब टंकी माता की आरती तो आपने बना दी। विश्वत सुत्रों से पता चला है कि इस पर फ़िलम निर्माण होने वाला और कालजयी धार्मिक फ़िल्म बनेगी।

निर्मला कपिला ने कहा…

हा हा हा याद कर ली है । धन्यवाद

RaniVishal ने कहा…

क्या बात है मिश्रजी,
आरती पड़ कर इतना आंनद हुआ की अब तो चालीसा की प्रतीक्षा कर रहे है :)
http://kavyamanjusha.blogspot.com/

श्याम कोरी 'उदय' ने कहा…

... rochak prastuti !!!

डॉ. मनोज मिश्र ने कहा…

वाह गुरुवर...

राज भाटिय़ा ने कहा…

मजेदार जी अगर पहले मिल जाती तो इसे बही गाया जाता. चलिये अब इसे किसी बडे पोस्टर पर छाप कर वहां लगा देते है.
धन्यवाद