12.3.10

निरन्तर पर आज दो सौ पचास वी पोस्ट .... कल ब्लागर भाई महफूज अली जी, भाई ललित शर्माजी, अवधिया जी से मुलाकात...

जबसे ब्लागजगत की दहलीज पर मैंने कदम रखा है आलम यह है की लोग मिलते रहे और कारवां बढ़ता गया की तर्ज पर ब्लागरो से मेल मुलाकात बढ़ती गई और यहाँ ब्लॉग पर उंगलियाँ चलती रही और ब्लॉग पर पोस्टे बढ़ती गई और आज स्थिति यह है की आप सभी से मिल रहे निरन्तर प्यार स्नेह और शुभाशीष के फलस्वरूप आज मुझे निरन्तर हिंदी ब्लॉग में दो सौ पचास वी पोस्ट लिखने का अवसर मिला है . हिंदी ब्लॉग समयचक्र के बाद मुझे निरन्तर ब्लॉग बहुत पसंद है . आप सभी ने समय समय पर मेरी हौसलाफजाई की है उससे मुझे निरंतर लिखने की प्रेरणा प्राप्त होती है इस हेतु मै आप सभी का दिल से शुक्रगुजार हूँ आभारी हूँ . विश्वास है कि आप इसी तरह भविष्य में भी स्नेहाशीष बरसाते रहेंगे. इस अवसर पर चंद पंक्तियाँ....

आपके साथ गुजरे हुए लम्हों की याद आने लगी है
वो मेल मुलाकातें यादे कहानी बन दिल में छाने लगी है.

आपके ख़ूबसूरत खतो को मैंने संभाल कर रखा है
जैसे कोई अपने दिल को हिफाजत से रखता है.

आपके हर खतो का लिफाफा संभाल कर रखा है
हर खतो के मजनूनो को दिल में उकेर रखा है.

कल मिसफिट पर गिरीश भाई ने पोस्ट लिखी थी की महफूज भाई न जाने कहाँ लापता हो गए हैं उनकी कोई खबर नहीं है तत्काल मैंने गिरीश जी को टीप लिखी की भाई महफूज जी से मेरी मोबाइल पर बातचीत हुई थी की महफूज जी का ११ मार्च के बाद जबलपुर आने का कार्यक्रम है . आज अचानक गिरीश जी का फोन मिला की महफूज भाई लखनऊ से जबलपुर आ चुके है .


आज करीब सात बजे शाम को महफूज भाई का फोन मिला . उन्होंने बताया की भाई मै जबलपुर आ चुका हूँ . काफी देर तक मोबाइल पर बातचीत होती रही और कल सिटी काफी हाउस में २ बजे मिलने का वादा किया है . साथ ही जानकारी मिली है की रायपुर से भाई ललित शर्माजी और जी.के.अवधिया जी का शहर आगमन हो रहा है . कल हम सब ब्लागर यारो की महफ़िल सिटी काफी हाउस में सजेगी और हम सब आपस में एक दूसरे के विचार और अनुभवों का आदान प्रदान करेंगे ...

26 टिप्‍पणियां:

Arvind Mishra ने कहा…

बधाई और आपकी कल की मीट के लिए शुभकमनाएं !

DR. ANWER JAMAL ने कहा…

achha laga .
mubarak ho.
lekin aaj to
मैं गायत्री का जी भर कर आनन्द लेना चाहता हंू ।I want to feel spiritual calm and tranquillitythrough Gayatri the great .आज मैं न तो किसी अन्य का नाम लूंगा और न ही कोई विषय ही छेड़ूंगा ।


हे परम प्रधान प्रभु पालनहार हमें सन्मार्ग दिखा ।

गिरीश बिल्लोरे ''पॉडकास्टर'' ने कहा…

Wah
maza aa gaya
Abhar

Suman ने कहा…

nice

अविनाश वाचस्पति ने कहा…

फोटो खींचना मत भूलिएगा
मन पर प्रत्‍येक का नेक चित्र
हो जाना चाहिए अंकि‍त।

Babli ने कहा…

२५० वी पोस्ट के लिए हार्दिक बधाइयाँ! कल की मीट के लिए शुभकामनायें!

Udan Tashtari ने कहा…

२५० वीं पोस्ट की बहुत बधाई और अनेक शुभकामनाएँ.

आज महफूज़ भाई, ललित भाई और अवधिया जी के साथ आप सब की कल होने वाली मुलाकात के बारे सुन, अपने जबलपुर में न होने पर बड़ा अफसोस हो रहा है. आपकी मुलाकात शुभ हो.

तस्वीरें ली जायें और रिपोर्ट का इन्तजार रहेगा.

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

२५० वीं पोस्ट के लिये हार्दिक बधाई. और कल की मिनी ब्लागर मीट के लिये बहुत शुभकामनाएं. आगे की रिपोर्ट और फ़ोटोज का इंतजार रहेगा.

रामराम.

अजय कुमार झा ने कहा…

वाह मिसर जी डबल डबल बधाई ...और हां फ़ोटो शूट तो हो ही जाए ....पक्का ...
अजय कुमार झा

Mithilesh dubey ने कहा…

बढ़िया है , करते रहिए मुलाकात ।

विनोद कुमार पांडेय ने कहा…

सबसे पहले २५० वीं पोस्ट की बधाई..और उससे बढ़िया समाचार यह रहा की कुछ सक्रिय ब्लॉगर एक जगह मिलने वाले है मतलब कुछ बढ़िया चर्चाएँ पढ़ने को मिलेगी उसके लिए धन्यवाद...

गिरीश बिल्लोरे ''पॉडकास्टर'' ने कहा…

Hardik shubh kamanayen mishr ji ko

दीपक 'मशाल' ने कहा…

Badhai ho Mishra sir...

दीपक 'मशाल' ने कहा…

Kal ki blogger meet ke liye shubhkamnayen...

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

250 बार बधाईयाँ

Dr. Smt. ajit gupta ने कहा…

टिप्‍पणी लिखी और गप हो गयी? ये क्‍या माजरा है? इस बार देखे कि गप तो नहीं होती। मैंने लिखा था कि लो कर लो बात? काँख में छोरा और गाँव में ढिंढोरा। आखिर आपने महफूज भाई को ढूंढ ही लिया, बधाई। बधाई आपको सतत लेखन के लिए भी।

Anil Pusadkar ने कहा…

बहुत बहुत बधाई आपको।बलागरों से मिलना अच्छा लगता है,महेन्द्र जी हम भी जबलपुर आने का मौका तलाश रहे हैं।आते है किसी दिन्।

बी एस पाबला ने कहा…

बहुत बहुत बधाई 250वीं पोस्ट की

आने वाले तो हम भी थे। लेकिन जाना पड़ गया एक पारिवारिक कार्यक्रम में धमतरी

महेन्द्र मिश्र ने कहा…

भाई अनिल जी, भाई पाबला जी
सादर अभिवादन,
माँ नर्मदा के पावन तट पर जरुर आये आपका संस्कारधानी में हार्दिक स्वागत है ...
महेंद्र मिश्र ,जबलपुर.

ललित शर्मा ने कहा…

@मिसिर जी
क्षमा चाहुंगा आज एक आवश्यक
मिटिंग की सुचना आ गयी,
इसलिए मै नहीं पहुच पाया।
गिरीश जी मैने कहा था कि
अवश्य ही पहुच रहा हुं।
लेकिन यहां भी जरुरी काम आ गया।
फ़िर कभी मिलते हैं।
ना पहुंच पाने पर खेद है।

वन्दना ने कहा…

250 vi post ki hardik badhayi.

सलीम ख़ान ने कहा…

achha laga .
mubarak ho.
lekin aaj to
मैं गायत्री का जी भर कर आनन्द लेना चाहता हंू ।I want to feel spiritual calm and tranquillitythrough Gayatri the great .आज मैं न तो किसी अन्य का नाम लूंगा और न ही कोई विषय ही छेड़ूंगा ।

राज भाटिय़ा ने कहा…

२५० वी पोस्ट के लिए हार्दिक बधाइयाँ!कल की इंतजार , हमारी शुभकामंनाये आप की इस ब्लांग मीट कॊ, बाते ओर चित्रो का इंतजार है

Tarkash ke teer ने कहा…

bahut sunder sirji aaj ki meeting kye liye badhai

संजय भास्कर ने कहा…

Hardik shubh kamanayen mishr ji ko

ललित शर्मा ने कहा…

मिसिर जी, हमने आने का वादा पूरा कर दिया। भले देर से ही सही।

यही याद दिलाने आया हूँ, नए साल में।
2011 की हार्दिक शुभकामनाएं।

आभार