26.3.10

बुढऊ ब्लागर्स एसोसियेशन के स्वयंभू अध्यक्ष महोदय ....के नाम एक चिट्ठी

बडे ही दुखित मन से मैंने दादाजी के बुढऊ कहने पर गुस्से से एक पोस्ट फेंक कर मारी थी जिसे पढ़कर बुढऊ लोग भी पसीज गए थे और आनन फानन में ताउजी ने बुढऊ ब्लागर्स एसोसियेशन की स्थापना की घोषणा कर दी तो बुढऊ लोगो में एक आशा की लहर जाग उठी की दुनिया में कोई उनका अपना हितेषी भी है और बुढऊ लोगो ने ब्लागर्स एसोसियेशन की स्थापना को हाथोहाथ लिए और अपने पोपचे मुंह से इसे स्वागतयोग्य कदम बताया और चाहुऔर अपनी प्रसन्नता व्यक्त की बस हमारे ताउजी को मौके का इंतज़ार था वे बिना किसी चुनाव के स्वयं भू अध्यक्ष बन बैठे और मुझे भी अपनी मंडली में घसीटकर बुढऊ ब्लागर्स एसोसियेशन का सचिव सेकेटरी नियुक्त कर दिया और हम दोनों अध्यक्ष और सचिव सारे दिन बुढऊ लोगो की खोजबीन करते रहें पर वह दिन निराशा में गुजर गया और हम दोनों को कोई बुढऊ नहीं मिला और हम लोग हाथ मलते रहें .


बड़े खुश होकर स्वयं भू अध्यक्ष महोदय जी बुढऊ ब्लागर्स एसोसियेशन के कार्यालय में बैठकर हुक्का गुडगुडाते रहे और एजेंडा घोषित करने के नाम पर सारे बुढऊ लोगो को तरह तरह के सुनहरे सपने नेताओं की तरह दिखलाये और बिना बताये फरार हो गए . अभी तक बुढऊ ब्लागर्स एसोसियेशन के स्वयं भू अध्यक्ष महोदय जी द्वारा कोई एजेंडा घोषित नहीं किया गया और चुपचाप न जाने कहाँ कथरी ओढ़कर छिप कर बैठ गए है इससे बुढऊ लोगो में अफरा तफरी और भगदड़ का माहौल बन गया है और एक एक कर सारे बुढऊ जो एक झंडे के तले इकठ्ठे हो रहे थे अब धीरे धीर फूटने लगे हैं और मै फंस गया हूँ जिसे दादाजी ने असमय बुढऊ बनवा दिया और मौके का फायदा प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए हमारे स्वयं भू अध्यक्ष महोदय ने उठाया और खुद अध्यक्ष बन बैठे .

अभी जिन बूढों ने छटवां पन पार नहीं किया है उन लोगो को बुढऊ ब्लागर्स एसोसियेशन से बड़ी आशा जागी है की यह एसोसियेशन भविष्य में उनके लिए कुछ न कुछ जरुर करेगा और जिन युवाओं को भविष्य में बूढा होना है वे भी इस एसोसियेशन में भरी रूचि दिखा रहें है की भविष्य में वे जब बूढ़े होंगे यह एसोसियेशन उनके लिए उपयोगी और मददगार रहेगा और बूढों के लिए कल्याणकारी योजनाये आगे जाकर क्रियान्वित करेगा .

अतः हे बुजुर्ग श्रेष्ठ स्वयं भू अध्यक्ष महोदय जी आप जहाँ भी हो जल्दी प्रगट हो और बूढों के हित में कल्याणकारी योजनाओं का एजेंडा सहित खुलासा करें . यहाँ हो रहे बूढें ने एकमतेन संकल्प पारित किया है की यदि स्वयं भू अध्यक्ष महोदय जी मीटिंग में उपस्थित होकर एजेंडा घोषित नहीं करते हैं और इस मंडली में उपस्थित नहीं होते हैं तो उपस्थित बुढऊ लोगो के द्वारा अविश्वास प्रस्ताव पारित कर दिया जावेगा और सजा के तौर पर आपको एक ही दिन में बुढऊ लोगो के हित में सारे एजेंडे कार्ययोजना के साथ प्रस्तुत करने होंगे ...

रिमार्क - पोस्ट मात्र हँसने हँसाने के उद्देश्य से . किसी को दुखी करने का कोई इरादा नहीं है .
महेन्द्र मिश्र

17 टिप्‍पणियां:

ज्ञानदत्त पाण्डेय Gyandutt Pandey ने कहा…

नतू पांडे को मेम्बर बनवा दिया जाये! :)

महेन्द्र मिश्र ने कहा…

अपने नतू पांडे जी को संरक्षक बनवाये देते हैं सबको खेल खिलौने से रिझाते रहेंगे ....

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

इश्किया का भूत उतरने दीजिये, कई लोग पुनः विचार करेंगे ।

संजय भास्कर ने कहा…

WAHH MAJA AA GYA..

M VERMA ने कहा…

विचारणीय
आवेदन तो नहीं करना होगा?

P.N. Subramanian ने कहा…

चलिए बुढऊ लोगों की सुध लेने की किसी ने सोची तो

श्याम कोरी 'उदय' ने कहा…

...बहुत सुन्दर,कुछ नये लोगों को भी मौका मिलना चाहिये नहीं तो कुछ "उत्पाती टाईप" के लोग चैन से रहने नहीं देंगे, हमारी शुभकामनाएं!!!

डॉ. मनोज मिश्र ने कहा…

वाह गुरुवर.

dhiru singh {धीरू सिंह} ने कहा…

हम भी थोडे थोडे बुढाने की ओर अग्रसर है ...मेमबर शिप चाहिये

Udan Tashtari ने कहा…

ताऊ जी और आपको पदाधिकारी बनने की बधाई. हमें भी २०/२५ साल में यहाँ आना ही है. तब मिलेंगे. :)

अविनाश वाचस्पति ने कहा…

हम चाहे बुढ़ऊ हैं

पर दिल तो बच्‍चा है जी ....

हमारे लिए भी एक बुढऊबच्‍चा या

बच्‍चाबुढऊ अध्‍यक्ष की पोस्‍ट बनाओ

...

Suman ने कहा…

nice

Anil Pusadkar ने कहा…

हा हा हा हा हा हा हा।मज़ा आ गया।

बवाल ने कहा…

अरे पंडितजी,
जिसका नाम ताऊ हो वो तो पैदा होते ही बूढ़ा भी हो जाता है और बुढ़ऊ ब्लॉगर एसोसिएशन का अध्यक्ष भी। हा हा।
ठहरिए सर्च वारण्ट निकलवाते हैं ताऊ के नाम।

BrijmohanShrivastava ने कहा…

बूढऊ लोगों की जब भी बात चलती है कोइ दुखी नहीं होता सब हँसते ही है

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

सेकेरेट्री महोदय, हम जरा बुढऊ लोगों के कल्याण के लिये कुछ कल्याणकारी योजनाएं बनाने मे अति व्यस्त हैं. बस मार्च क्लोजिंग निपटाकर पूरे जोर जोर से आपके बुढऊ ब्लागर्स एसोसियेशन के लिये ऐसी योजनाए और कल्याणकारी कार्यक्रम पेश करेंगे कि सब याद रखेंगे, आप तो बस मेंबर बनाना जारी रखिये. हम जल्द ही हाजिर होता हूं.

रामराम.

-ताऊ मदारी एंड कंपनी

VIJAY TIWARI " KISLAY " ने कहा…

आपके पीछे पीछे हम भी हैं बड़े भैया...
- विजय