24.6.09

जिन्होंने तुम्हे दिलदार बनाया है दुआएं उनको दो

आप बातो ही बातो में दिले दिलदार बन गए क्यों
अपना बनाकर पास रह कर तकरार कर रहे क्यों.

****

जिन्होंने तुम्हे दिलदार बनाया है दुआएं उनको दो
दुनिया की परवाह ना कर दिल में तुम्हे बसाया है.

*****

10 टिप्‍पणियां:

ओम आर्य ने कहा…

kabile tarif hai ........jawadil kee pukar ko salam

अविनाश वाचस्पति ने कहा…

रार काहे की
तकरार काहे की
कार टाटा की
नैनो ही हो

अजय कुमार झा ने कहा…

जो दिल से मिले हैं दिल.,
तो असर होगा ही दुआओं में...
हमने कब ढूंढा ,इंसानों में,
तलाशा है आपको खुदाओं में...

महेंदर भाई...आपकी कलम मन की सारी सुन्दरता कागज़ पर उडेल देती है....

yuva ने कहा…

Hum bhee isee ada ke kaayal hain
Kahna na par hum bhee ghaayal hain

Badhiya rachna, Badhai

राज भाटिय़ा ने कहा…

वाह वाह वाह कया बात है बहुत गहरे जनाब.
धन्यवाद

Udan Tashtari ने कहा…

बहुत बढ़िया कहा, महेन्द्र भाई.

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन ने कहा…

वाह मिश्रा जी, यह दुनिया है दिलवालों की!

seema gupta ने कहा…

बहुत सुन्दर...

regards

महामंत्री - तस्लीम ने कहा…

अरे वाह, दुआएं तो हम आपको भी देंगे, इतने नेक ख्‍याल के लिए।

-Zakir Ali ‘Rajnish’
{ Secretary-TSALIIM & SBAI }

डॉ. मनोज मिश्र ने कहा…

behtreen andaaz .